कोचिंग सेंटर कैसे खोलें

कोचिंग सेंटर व्यवसाय क्या होता है? – Coaching Center Business Kya Hai In Hindi: जैसा की आप जानते है आज के समय में सरकारी नौकरी कम और बेरोजगारी ज्यादा है परन्तु आपके पास शिक्षा में ज्ञान है तो कोचिंग सेंटर खोलकर शिक्षा देने के साथ – साथ पैसे भी कमाई कर सकते है |

पढ़े-लिखे व्यक्ति को नौकरी नहीं लगे तो वे टूट जाते है पर कभी हार नहीं मानने वाले के लिए हमेशा दरवाजा खुला रहता है | अगर आप दुसरो को ज्ञान देने में रूचि रखते है तो Coaching Center खोलकर पैसे कमाई कर सकते है |

बहुत सारे ऐसे अभ्यर्थी है जो Teaching लाइन में Career बनाकर छात्रो को अनेक परीक्षाओं में पास होने के लिए मदद कर रहें है | कुछ छात्र स्कूल के अलावा एंट्रेंस एग्जाम निकालने के लिए कोचिंग सेंटर में जाना पसंद करते है |

कोचिंग सेंटर में सरलता से आय तय करना मुस्किल है | पर बैच और क्लास में संख्या के अनुसार आय में बढ़ोतरी होती है | कोचिंग सेंटर बिजनेस में होनेवाले आय से नाकारा नहीं जा सकता है क्यूंकि इस बिजनेस में बहुत ही अच्छा कमाई है |

अगर आपके पास नॉलेज ज्यादा है और आप कई विषयों को पढ़ाने में सक्षम है तो औसतन 35,000 रुपये से 60,000 रुपये प्रति महीने कमाई कर सकते है | आजकल बच्चे को सरलता से पढ़ाने के लिए स्मार्ट टीवी का उपयोग किया जा रहा है | (इसे भी पढ़ें Interpol क्या है? इंटरपोल का मुख्य उदेश और इंटरपोल के मुख्य तथ्य)

जिस कोचिंग क्लास में स्मार्ट टीवी का इस्तेमाल किया जाता है उस क्लास का शुल्क ज्यादा होता है | अगर आप अधिक पैसे कमाई करना चाहते है तो स्मार्ट क्लास के साथ – साथ बेहतर शिक्षा देना आवश्यक है |

कोचिंग सेंटर का व्यवसाय शुरू करने का तरीका – How To Start A Coaching Center Business In Hind

कोचिंग सेंटर व्यवसाय शुरू करने के लिए व्यक्ति को एक या अधिक विषयों में कम्प्लीट ज्ञान होना चाहिए | अगर आप विषयों के अलावा अन्य क्षेत्रों में जानकारी रखते है तो आप शिक्षक बनने के योग्य है |

Coaching का बिजनेस करने के लिए किराये या खुद का एक घर होना चाहिए | अगर आप प्राथमिक क्लास के बच्चे को पढ़ना चाहते है तो कम जगहों में काम चल जायेगा वही प्रतियोगिता परीक्षा से रिलेटेड कोर्स कराने के लिए बड़े घर की जरुरत होती है |

बड़े घर की जरुरत बैच और क्लास में अभ्यर्थी कि संख्या के अनुसार हो सकता है | अगर आप पढ़ाने में सक्षम है तो कोचिंग सेंटर का व्यवसाय शुरू कर सकते है |

इस बिजनेस में आवश्यकता के अनुसार पढाई करने के तरीका और आवश्यकता के अनुसार प्रबंधन की आवश्यकता है | स्मार्ट तरीके से पढ़ाने के लिए Black बोर्ड, व्हाइट बोर्ड के अलावा स्मार्ट टीवी का इस्तेमाल कर सकते है

कोचिंग क्लास हेतु रजिस्ट्रेशन कैसे कराये? Coaching Class Register Kaise Kare

भारत के नागरिक होने के साथ – साथ बिजनेस को सफल बनने के लिए व्यापार राज्य के तहत रजिस्ट्रेशन कराना होगा | इसके लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन प्रक्रिया से Coaching Centre के लिए पंजीकरण करा सकते है |

अगर आपका कोचिंग व्यवसाय छोटा है तो ऑनलाइन माध्यम से फ्री में उद्योग आधार से पंजीकरण कर सकते है | Udyog Aadhaar रजिस्टर करने के लिए आधार कार्ड की जरुरत होती है जिसके बाद ऑनलाइन सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते है |

कोचिंग सेंटर के प्रकार

आज के समय में अलग-अलग प्रकार के कोचिंग सेंटर खोले जा रहे हैं ताकि स्टूडेंट को बेस्ट तरीके से हेल्प मिल सके और स्टूडेंट भी अपने रिक्वायरमेंट के हिसाब से उन्हें कोचिंग सेंटर को ज्वाइन करते हैं, जिनको करने के लिए उन्हें अति आवश्यकता होती है। चलिए हम आगे जानते हैं कि आप किन किन प्रकार के कोचिंग सेंटर को खोल सकते है, जिस की जानकारी यहां पर नीचे विस्तार से बताई गई है।

सब्जेक्ट वाइज कोचिंग सेंटर

आपने देखा होगा कि कई सारे स्टूडेंट किसी एक या दो सब्जेक्ट में काफी ज्यादा कमजोर होते हैं और उन्हें स्ट्रांग करने के लिए ऐसे बच्चे कोचिंग सेंटर ज्वाइन करते हैं। ऐसे कोचिंग सेंटर पर अलग-अलग विषयों के आधार पर चाहे वह किसी भी कक्षा का स्टूडेंट क्यों ना हो उसे उस विषय में कोचिंग दी जाती है।

उदाहरण के रूप में कोई स्टूडेंट अगर मैथ के सब्जेक्ट में वीक है तब ऐसे में उसे मैथ सब्जेक्ट को स्ट्रांग करने के लिए आसानी से कोचिंग सेंटर मिल जाएंगे और इसी प्रकार के अन्य विषयों के लिए भी कोचिंग सेंटर खोले जाते हैं।

क्लास वाइज कोचिंग सेंटर

आजकल क्लास वाइज कोचिंग सेंटर भी खोले जा रहे हैं। जैसे कि एक से पांचवी कक्षा में पढ़ने वाले बच्चों के लिए अलग कोचिंग सेंटर। वही इंटर और हाईस्कूल के स्टूडेंट के लिए अलग कोचिंग सेंटर, बीए बीएससी और इसके ऊपर के अन्य ग्रेजुएशन के स्टूडेंट ओं के लिए अलग कोचिंग सेंटर होते हैं।

इसी प्रकार से आप किसी भी क्लास वाइज भी कोचिंग सेंटर को खोल सकते हैं और उसी क्लास के बच्चों को पढ़ा सकते हो। इस प्रकार के कोचिंग सेंटर में अगर आप हाई स्कूल के छात्रों को पढ़ाते हो तो हाई स्कूल के जितने भी सब्जेक्ट होते हैं, उन सभी प्रत्येक सब्जेक्ट की कोचिंग को स्टूडेंट को देना होगा और आप इसके लिए एक अलग अलग बैच बनाकर बच्चों को कोचिंग दे सकते हो।

कोचिंग सेंटर शुरू करने के लिए टीचर का चुनाव कैसे करें?

देखिए आप तो अकेले कोचिंग सेंटर तो नहीं चला पाओगे क्योंकि ढेर सारे बच्चों को अलग-अलग विषयों पर पढ़ाना पॉसिबल ही नहीं है। इसीलिए आपको अलग-अलग सब्जेक्ट वाइज अच्छे अच्छे टीचर का चुनाव करना होगा ताकि वह बच्चों को अच्छे से कोचिंग पढ़ा सके। आप जो भी टीचर का चुनाव करें उनका स्वभाव बच्चों के प्रति अच्छा होना चाहिए और उन्हें बच्चों को पढ़ाने का भी स्किल पता होना चाहिए।

आपने सुना होगा कि कई सारे बच्चे अपने टीचर की तारीफ करते हैं कि हमारे टीचर बहुत अच्छे तरीके से पढ़ाते हैं और हम उस सब्जेक्ट को आसानी से समझ पाते हैं और अगर उसी सब्जेक्ट को कोई और टीचर पढ़ाता है तो वह टीचर हमें ठीक तरीके से समझा नहीं पाता और हमें उसकी पढ़ाई गए सब्जेक्ट को समझ में नहीं आता है।

इसीलिए अगर आप अपने कोचिंग सेंटर को सक्सेस की ओर ले जाना चाहते हो तो आपको अपने प्रत्येक टीचर का चुनाव सही तरीके से करना चाहिए और ध्यान रहे कि जो भी टीचर जिस भी सब्जेक्ट को पढ़ाना चाहता है, उस सब्जेक्ट में वो टीचर अच्छा होना चाहिए और उसे उस सब्जेक्ट में अच्छे से जानकारी भी होनी चाहिए ताकि वह बच्चों को आसानी से पढ़ा सके।

कोचिंग सेंटर खोलने के लिए कुल इन्वेस्टमेंट

अगर कोचिंग सेंटर में लगने वाले कुल रिक्वायरमेंट को देखा जाए तो आप आसानी से ₹20000 से लेकर ₹50000 या फिर कम से कम ₹80000 के निवेश में एक अच्छा कोचिंग सेंटर खोल सकते हो और अपने इस कोचिंग सेंटर को आगे ले जाकर इसे एक ब्रांड नेम के रूप में भी तैयार कर सकते हो। यह केवल एक बार निवेश करना होगा और इस निवेश की राशि में टीचर की सैलरी को इंक्लूड नहीं किया गया है।

केवल फर्स्ट टाइम निवेश में कितने रुपए आपको खर्च करने पड़ सकते हैं। इसके बारे में हमने यहां पर बताया है बाकी आप खुद अपने स्तर पर कितना निवेश कर सकते हो। इसका आकलन लगाओ और उसी हिसाब से कोचिंग सेंटर खोलने के लिए एक बजट निर्धारित करो और फिर आप आसानी से कोचिंग सेंटर खोल कर इसे चलाओ।

कोचिंग सेंटर खोलने से होने वाला लाभ

अगर आप अपने कोचिंग सेंटर को अच्छे से चला लेते हो तो आप आसानी से हर महीने ₹15000 से लेकर ₹40000 के बीच की इनकम कर सकते हो। अगर आपका यही कोचिंग सेंटर एक अच्छे लेवल पर पहुंच जाता है और आपके पास ढेरों सारे स्टूडेंट पढ़ने आते हैं तब आप ऐसे में ₹100000 से लेकर करीब ₹150000 प्रति महीना की भी इनकम कर सकते हो।

4 thoughts on “कोचिंग सेंटर कैसे खोलें”

Leave a Comment

error: Content is protected !!