जानिए 12th commerce के बाद छात्र क्या करे – करियर विकल्प in Hindi

आज के समय में रोजगार की कमी होने के कारण छात्रो को कम उम्र में ही अपने कैरियर का रास्ता चुनना पढता है और फिर अपनी चुनी हुयी मंजिल को पाने के लिए दिन रात पढ़ाई करनी पढ़ती है तब कहीं जाकर वह किसी नौकरी के काबिल बन पाते है। छात्रों को हमेशा ये डिसिशन लेने में समस्या होती है की 12th के बाद वो क्या करे ? कौनसी लाइन चुने और किस्मे कितना स्कोप है। मैंने अपने पिछले पोस्ट में बताया था की 12th maths के बाद क्या करना चाहिए, आज मैं आपको बताऊंगा की 12th commerce के बाद आपको क्या करना चाहिए।

छात्र जिस भी फील्ड में काम करना चाहता हो उसे उस काम से जुड़ा subject हाई स्कूल में लेना पढता है जब वह बारहवी पास कर लेता है तो फिर वह कई विकल्पों में से एक को चुन सकता है।

स्टूडेंट चाहे किसी भी स्ट्रीम का हो , हर किसी को 12th के बाद कैरियर से जुड़े सवाल सताने लगते है। हालांकि 12वीं क्लास में साइंस से पास होने वाले छात्रो का अपने कैरियर के बारे में बहुत ही सरल सिद्धांत रहता है। यह तो वह B.Tech कर के इंजीनियर बनते है या फिर वह किसी भी प्रकार की डिग्री कर के अपनी पसंदीदा फील्ड में जा सकते है।

साइंस वाले छात्र बड़ी ही आसानी से अपनी पसंदीदा फील्ड में चले जाते है पर जितना सरल उनके लिए अपना कैरियर चुनना होता है यह काम कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए उतना ही कठिन होता है। या फिर हम ऐसा कहें की एक धारणा बनी हुयी है की कॉमर्स क्षेत्र में कैरियर के विकल्प ज्यादा नही है। पर यह धारणा बिलकुल गलत है क्योंकि हर stream की तरह कॉमर्स से नौकरी के काफी विकल्प है ।

आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे की किस प्रकार 12th क्लास में कॉमर्स लेने के बाद आप अपने सपनो को सही क्षेत्र , सही डिग्री का चुनाव करके आकर दे सकते है। क्योंकि जितनी ज्यादा अच्छी नीव होगी परिणाम भी उतना ही अच्छा होगा। तो चलिए देखते हैं की 12th commerce के बाद क्या करना चाहिए:-

1) Bachelor Of commerce (B.com) :

कॉमर्स स्ट्रीम के छात्रो के लिए 12वीं पास करने के बाद सबसे बेहतर विकल्प B.com होता है। B.com कॉमर्स के छात्रो के लिए यह तीन साल की एक अंडरग्रेजुएट डिग्री है। अगर आप भविष्य में चलकर बिज़नस से जुड़े क्षेत्र में कुछ बड़ा करना चाहते है तो आपको बहुत सी चीज़ें जैसे बिज़नस प्लानिंग , एकाउंटिंग आदि चीज़ों की जानकारी होना बहुत ही आवश्यक है और वह आप B.com कर के हासिल कर सकते है।

B.Com में बिज़नस से जुड़े शुरूआती मुद्दों पर ध्यान दिया जाता है। आप चाहें तो B.Com कर के पोस्ट ग्रेजुएशन भी कर सकते है और बड़े स्तर की नौकरी पा सकते है। अगर आप ठीक तरीके से B.Com करते है तो उम्मीद है की आप B.com करके ही नौकरी पा सकते है पर अगर B.com के साथ अगर कोई Masters डिग्री भी हुयी तो आपकी B.com की वैल्यू बढ़ जायेगी। और आपको आगे चलकर बेहतर नौकरी मिलने की उम्मीद भी बढ़ जायेगी।

अब आपको बता दे की B.com भी कई तरह का होता है जैसे की normal B.com , B.com(Accounts and Finance) , B.com (Banking and Insurance)। इस सब में अलग अलग सब्जेक्ट पर जोर दिया जाता है पर डिग्री B.com ही कहलाती है।

2) BBA ( Bachelor of Business Admininstration) :

B.com के बाद छात्रो द्वारा यह कोर्स भी काफी पसंद किया जाता है B.com की तरह ही यह भी 3 साल की अंडर ग्रेजुएट डिग्री होती है जो की आप 12वीं क्लास के बाद कर सकते है। इस कोर्स में आपको बिज़नस मैनेजमेंट और Human resource जैसे सब्जेक्ट्स के बारे में पढ़ाया जाता है। इसे करने के बाद आप चाहें तो MBA भी कर सकते है या फिर इसी डिग्री के बाद नौकरी ढूंढ सकते है।

3) BHM ( Bachelor In Hotel Management) :

यह कोर्स 4 साल का कोर्स है यह उन लोग के लिए सबसे अच्छी चॉइस है जो होटल मैनेजमेंट के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते है। इस कोर्स से स्टूडेंट hospitality के क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते है।

4) BCA ( Bachelor In Computer Applications) :

BCA यानी की Bachelor in computer applications यह एक ऐसा कोर्स है जो की 12वी के बाद न केवल साइंस के बल्कि कॉमर्स स्ट्रीम के छात्र भी कर सकते है। यह 3 साल की एक अंडर ग्रेजुएट डिग्री है। यह डिग्री करने के बाद आप किसी भी IT कंपनी में सॉफ्टवेयर प्रोग्रामर की जॉब पा सकते है। अगर आप चाहें तो 3 साल की BCA करने के बाद आप MCA भी कर सकते है जिससे आपकी वैल्यू और भी बढ़ जायेगी और आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियर तक की नौकरी मिल जायेगी।

BCA कंप्यूटर से जुड़ा हुआ कोर्स है यह कोर्स सिर्फ उन लोगों को करना चाहिए जो कंप्यूटर में रूचि रखते है क्योंकि कंप्यूटर में रूचि न रखने वाले लोगों के इस कोर्स में कुछ भी नहीं है।

5) CA ( Chartered Accountancy) :

CA इस शब्द से तो आप भली भाँती परिचित होंगे। हर कॉमर्स स्टूडेंट का सपना होता है की वह CA बने । इसको Institute of Chartered Accountants of India द्वारा conduct व manage किया जाता है। ICAI को ही भारत में CA बनाने का जिम्मा दिया गया है।

CA इतना ज्यादा लोकप्रिय कोर्स है की बहुत से लोग तो CA बनने की तैयारी अपनी ग्रेजुएशन खत्म होने के बाद शुरू करते है जिससे की उनके पास कम समय होता है और उनको इसके एग्जाम को निकालने में दिक्कत होती है इसीलिए अगर कोई भी छात्र या छात्रा CA की तैयारी करना चाहती है तो उसको 12वी क्लास पास करने के बाद ही शुरू कर देनी चाहिए।

इसकी शुरुआत CPT यानी की common Profiency Test से होती है जिसको पास करने के बाद आपको information technology training में 100 घंटे ट्रेनिंग करनी होती है इसके बाद आप articled assistant और audit assistant के रूप में 18 महीने तक काम कर सकते है । फिर आप Professional Competence Examination यानी की PCE का एग्जाम देना पड़ेगा । इसके बाद आपको एक और एग्जाम देना पड़ेगा और आप CA बन जायेंगे।

यह सबसे ज्यादा सैलरी देने वाली जॉब्स में से एक है। नए बने हुए CA की भी सैलरी कम से कम 5 लाख तक होती है। जैसे जैसे experience बढ़ता जाता है वेसे वेसे ही सैलरी भी बढ़ जाती है।

6) ICSI ( Institute of company secretaries of India) :

यह कोर्स company secretary के लिए है इसमें भी छात्रो के लिए अच्छा स्कोप है। यह कोर्स 3 चरणों में पूरा होता है इसकी शुरुआत 8 महीने के फाउंडेशन कोर्स के साथ होती है अगर आपने ग्रेजुएशन की हुयी है तो आपको foundation कोर्स नहीं करना पड़ता। आपको इसमें छूट मिल जाती है। फाउंडेशन कोर्स के बाद दूसरा चरण “Executive” होता है और तीसरा और आखिरी चरण “प्रोफेशनल” होता है। प्रोफेशनल कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को 16 महीने तक किसी अनुभवी Company secretary के साथ काम करना होता है इसके बाद वह ICSI के एसोसिएट सदस्य और खुद ही एक कंपनी सेक्रेटरी बन जाते है।

इन कोर्स के अलावा भी कुछ कोर्स है जो की कॉमर्स स्ट्रीम के छात्र कर सकते है। जैसे की Integrated Law Course जिसमे लॉ और कॉमर्स दोनों की पढ़ाई की जाती है पर यह 5 वर्ष की लंबी डिग्री है।

कोर्स का चयन करते समय अपने परिवार वालों से विचार विमर्श कर ले और आप जब पूरी तरह से संतुष्ट हो तभी अप्लाई करें। और आप जिस भी कोर्स के लिए अप्लाई करते है बस एक बात का ध्यान रखें की आप वह कोर्स पूरी मेहनत व लगन के साथ करें।

3 thoughts on “जानिए 12th commerce के बाद छात्र क्या करे – करियर विकल्प in Hindi

    • Job to BCA mein bhi mil sakti hai yadi aapke paas sahi computer skills hai , agar aap software ya web application develop karna jaante hain , ya aapko programming languages aati hai jaise JAVA , .NET , PHP , python etc . aajkal to AI aur machine Learning mein bahut sare jobs hain market mein , depend karta hai degree ke saath aapko kis par expertise hai.

Leave a Comment