अगरबत्ती व्यवसाय Agarbatti Making Business Plan Hindi

बेहद फायदेमंद है अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय

भारत में धर्म का महत्व बेहद ज्यादा है। भारत एक कृषि प्रधान देश होने के साथ-साथ धर्म -प्रधान देश भी है। अगरबत्ती पूजा-पाठ की एक ऐसी सामग्री है जिसका उपयोग हर दिन हर घर में होता है। सिर्फ घर ही क्यों दुकानों, कार्यालयों, फैक्ट्रियों, अस्पतालों लगभग हर जगह भगवान के पूजन के लिए अगरबत्ती का इस्तेमाल किया जाता है। सिर्फ देश में ही नहीं विदेशों में भी जहां भारतीय रहते हैं वहां भी अगरबत्ती की बिक्री ज्यादा होती है। भारत अगरबत्ती का सबसे बड़ा निर्यातक है। ऐसे में अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय बहुत फायदेमंद और निरंतर चलने वाला बिजनेस है। आइए आपको अगरबत्ती उत्पादन के बिजनेस प्लान के बार में बताते हैं।

अगरबत्ती व्यवसाय में सही क्षेत्र का चुनाव करें

अगरबत्ती बनाने के बिजनेस में तीन सब कैटेगरी हैं। इनमें कच्ची अगरबत्ती स्टिक या खुशबूदार स्टिक का उत्पादन करना, बांस yaani agarbatti sticks की सप्लाई करना और मसाले की सप्लाई करना शामिल है। सबसे पहले तय करें कि आपको इन तीनों से कौन-सी श्रेणी का बिजनेस करना। कच्ची अगरबत्ती के उत्पादन में प्रति किलो 10 रुपए की कमाई होती है लेकिन एक अगरबत्ती बनाने वाली मशीन 10 घंटे में 100 किलो अगरबत्ती का निर्माण करती है, इसलिए इसमें अच्छा फायदा होता है। अगरबत्ती के लिए बांस की सप्लाई चीन से आती है। चीन से सामान मंगा कर उसकी सप्लाई का बिजनेस करने में प्रति किलो 30 रुपए का फायदा होता है। बांस की सप्लाई के अलावा आप अगरबत्ती के मसाले जैसे जिगत पाउडर, चारकोल पाउडर, गम पाउडर और सुगंधित चीजों की बिक्री कर सकते हैं।

कानूनी दस्तावेजों का काम पूरा करें

अगर आपने तय कर लिया है कि आप अगरबत्ती का उत्पादन करेंगे और सप्लायर नहीं बनेंगे तो अगली प्रक्रिया कानूनी दस्तावेज हासिल करने की होगी। कंपनी का नाम तय उसे रजिस्ट्रार ऑफ कंपनी के पास रजिस्टर कराएं। इसके बाद स्थानीय प्रशासन से ट्रेंड लाइसेंस हासिल करें। इसके अलावा अपने अगरबत्ती बिजनेस को एसएसआई यूनिट के पास रजिस्टर करें। जीएसटी के लिए रजिस्टर करें। इसके अलावा अपने ब्रांड को सुरक्षित रखने के लिए अपनी कंपनी का ट्रेड मार्क रजिस्टर कराएं।

बजट तय करें

किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले बजट बनाना बेहद जरूरी होता है। सबसे पहले ये तय करें कि आप एक दिन में कितनी अगरबत्तियों का निर्माण करने का लक्ष्य रखेंगे। बाद में इस हिसाब से कच्चे माल, मशीन, पैकिंग और मार्केटिंग के लिए बजट तय करें। अगर आप बैंक से लोन लेना चाहते हैं तो आपको लोन भी आसानी से मिल जाएगा क्योंकि सरकार ने मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए बैंक को लोन देने के निर्देश दिए है। लोन के लिए बैंक से संपर्क करें। हालांकि, इस बिजनेस को करने के लिए 7-8 लाख रुपए की जरूरत पड़ती है और इससे आप शुरुआत में ही 3 मशीन इंस्टॉल कर सकते हैं।
आप अगरबत्ती व्यवसाय का काम एक मशीन से भी शुरू कर सकते हैं लेकिन एक मशीन में ज्यादा मुनाफा नहीं आएगा। एक मशीन से शुरू करने के लिए आपको कम से कम 2 लाख रुपैया लगाना होगा।

अगरबत्ती बनाने की विधि

अगरबत्ती बनाने की विधि बहुत ही सरल है, इसमें कोयला पाउडर, जिकिट और सिटकि पाउडर को सही मात्रा में मिला कर पेस्ट बनाया जाता है और फिर अगरबत्ती बनाने की मशीन के जरिये इसको कांटी sticks में लपेटा जाता है। मशीन से बहुत जल्दी जल्दी कच्चा अगरबत्ती बनता है।

अगरबत्ती बनाने की मशीन

अगरबत्ती बनाने में कई तरह की मशीनें काम में लाई जाती हैं। इनमें मिक्सचर मशीन, ड्रायर मशीन और मेन प्रोडक्शन मशीन शामिल है। मिक्सचर मशीन कच्चे माल का पेस्ट बनाने के काम आता है और मेन प्रोडक्शन मशीन पेस्ट को बांस पर लपेटने का काम करता है। अगरबत्ती बनाने के मशीन सेमी और पूरी ऑटोमेटिक भी होती है। मशीन का चुनाव करने के बाद  इंस्टॉलेशन के बजट के हिसाब से मशीनों के सप्लायर से डील करें और इंस्टॉलेशन करवाएं। मशीनों पर काम करने की ट्रेनिंग लेना भी आवश्यक है।

अगरबत्ती बनाने की मशीन की कीमत

भारत में अगरबत्ती बनाने की मशीन की कीमत 35000 रुपैया से 175000 रुपैया तक है। कम दाम वाली मशीन में production कम होती है और आपको इससे ज्यादा मुनाफा नहीं होगा। मेरा ये सुझाव है की आप अगरबत्ती बनाने वाली आटोमेटिक मशीन से काम स्टार्ट करें क्यूंकि ये बहुत तेजी से अगरबत्ती बनता है। आटोमेटिक मशीन की कीमत 90000 से 175000 रुपैया तक है। एक आटोमेटिक मशीन एक दिन में 100kg अगरबत्ती बन जाती है।

अगरबत्ती कच्चे माल की सप्लाई

मशीन इंस्टॉलेशन के बाद कच्चे माल की सप्लाई के लिए मार्केट के अच्छे सप्लायरों से संपर्क करें। अच्छे सप्लायरों की लिस्ट निकालने के लिए आप किसी अगरबत्ती उद्योग में पहले से बिजनेस करने वाले लोगों से मदद ले सकते हैं। कच्चा माल हमेशा जरूरत से थोड़ा ज्यादा मंगाए क्योंकि इसका कुछ हिस्सा वेस्टेज में भी जाता है।

अगरबत्ती बनाने के लिए सामग्री

अगरबत्ती बनाने के लिए सामग्री में गम पाउडर, चारकोल पाउडर, बांस, नर्गिस पाउडर, खुशबूदार तेल, पानी, सेंट, फूलों की पंखुड़ियां, चंदन की लड़की, जेलेटिन पेपर, शॉ डस्ट, पैकिंग मटीरियल आदि शामिल हैं।

कर्मचारियों का चयन करें

अगर आप अपने घर के सदस्यों के साथ ही छोटा-सा अगरबत्ती का बिजनेस शुरू करना चाह रहे हैं तो सभी सदस्यों को अगरबत्ती बनाने की ट्रेनिंग दिलवाएं। चाहे तो अब एक्सपर्ट कर्मचारी भी रख सकते हैं। अगरबत्ती की पैकेजिंग और मार्केटिंग के लिए आपको कर्मचारी रखने पड़ेंगे। इनकी सैलेरी भी तय कर लें।

पैकेजिंग और मार्केटिंग

आपका उत्पाद आपकी डिजाइनर पैकिंग पर बिकता है। पैकिंग के लिए किसी पैकेजिंग एक्सपर्ट से सलाह लें और अपनी पैकेजिंग को आकर्षक बनाएं। पैकेजिंग के द्वारा लोगों के धार्मिक मनोस्थिति को छूने की कोशिश करें।  अगरबत्तियों की मार्केटिंग करने के लिए अखबारों, टीवी में एड दे सकते हैं। इसके अलावा अगर आपका बजट इजाजत देता हो तो कंपनी की ऑनलाइन वेबसाइट बनाएं और अपने विभिन्न उत्पादों की मार्केटिंग करें।

9 thoughts on “अगरबत्ती व्यवसाय Agarbatti Making Business Plan Hindi

  1. बहुत ही अच्छे और विस्तार से आपने अगरबत्ती बनाने के व्यवसाय के बारें में वर्णन किया l मेरे मन में इस बिजनेस को करने का प्लान था लेकिन जानकारियोँ का अभाव था, अब जब आपने सबकुछ बता ही दिया है तो मैं अपने बिजनेस को करने वाला हूँ…

    धन्यवाद सहित !!!

  2. Thnks itna acha batene ke liye… mai yeh busniess krna chata hu. Kya koi contact no mil jayga jise mujhe koi problm ho to to mai cal kr saku. Or mujhe iski machino ki jankari kise milegi

  3. Kya agarabatti machine lagane ke liye koyi registration karane ki jaroorat hoti hai. Kya machine ke liye lone milata hai

    • agar aap agarbatti ka business bade paimane par karna chahte hain jispar crore ka transaction ho tab aapko registration karwana padega aur GST number bhi lena padega , yadi aap 3-4 machine chalana chahte hain apne rozgaar ke liye tab koi zaruri nahi haan par bijli commercial lena padega. agarbatti machine ke loan ke liye apne bank se baat karein.

      Dhanyawaad

Leave a Comment

error: Content is protected !!