ऐसे बचाएं AC का बिजली बिल इन बातों का रखें पूरा ध्यान

इन बातों का रखना होगा ध्यान हम भी बचा सकते हैं AC का बिजली बिल ।

 

1 ) रूम के साइज के हिसाब से ही हमें AC लगवाना चाहिए , AC का tonnage कैलकुलेट करके ही AC लगवाएं , सीलिंग हाइट 10-11 फ़ीट से ज़्यादा न हो

Room  SizeTonnage
 

80 स्क्वायर फ़ीट से कम

 

 

0.75 TON

110 स्क्वायर फ़ीट तक1 TON
150 स्क्वायर फ़ीट तक1.25 TON
160 स्क्वायर फ़ीट तक1.5 TON
210 स्क्वायर फ़ीट तक2 TON
265 स्क्वायर फ़ीट तक2.5 TON
315 स्क्वायर फ़ीट तक3 TON

2 ) 27 – 28 degree में AC चलाएं , यदि हम इससे कम में AC चलाते हैं तो कंप्रेसर को वह temperature maintain करने में ज़्यादा मेहनत करना पड़ता है जिससे हमारे बिजली का ज़्यादा यूनिट consumption होता है और बिजली बिल ज्यादा आता है हमें चाहिए की हम पहले 28 में AC चला लें उसके बाद जब हमारा रूम कुछ ठंडा हो जाये तब सीलिंग फैन चला दें , फैन से भी ठंडी हवा निकलेगी और रूम का temperature maintain रहेगा , एक बात का ध्यान रखें की पहले सीलिंग फैन को बंद रखें जब रूम थोड़ा ठंडा हो जाये तब ही सीलिंग फैन चलाएं ।

3 )  कोशिश करें की आउटडोर यूनिट को शेड में रखें डायरेक्ट धुप में न रखें , क्यूंकि AC बाहर का तापमान अपने आउटडोर यूनिट से लेता है और इस केस में यदि यह धुप में होगा तो सामान्य तापमान से ज़्यादा इसका तापमान होगा जो ज़्यादा बिजली यूनिट खपत करेगा

4 ) रूम की खिड़की दरवाज़े अच्छे तरह से बंद हों थोड़ी सी भी गैप न हो और उसपर मोटे कपडे का पर्दा भी हो तो ज़्यादा अच्छा है ।

5 ) AC का फैन स्पीड कम रखें

6 ) AC को लगातार चालू रखें उसे ON – OFF बार बार न करें , OFF करके दोबारा ON करने से AC की कंप्रेसर को दोबारह मेहनत करना पड़ता है और ज़्यादा बिजली यूनिट की खपत होती है

7 ) AC का फ़िल्टर ज़रूर साफ़ करें , जाली में अक्सर धुल की परत जम जाती है जिससे वह चोक हो जाती है और AC कम कूलिंग करने लगता है , कंप्रेसर ज़्यादा बिजली खता है

Inverter AC  हो या नार्मल AC दोनों में ही बिजली की खपत होती है और बिजली बिल ज़्यादा आता है , यदि हम इन बातों का ध्यान रखते हैं तब हम आसानी से बिजली का बिल बचा सकते हैं , मैंने खुद इन बातों का ध्यान रखते हुए रात भर AC चलाया और सुबह जब मीटर का रीडिंग देखा तब सिर्फ 2 unit की खपत हुई थी , मैंने AC को 28 डिग्री पर चलाया और जब रूम थोड़ा ठंडा होगया तब सीलिंग फैन चालू कर दिया रूम का तापमान एकदम सामान्य रहा और बिजली की खपत भी कम हुई  ।

inverter AC  और सामान्य AC  में यह फर्क होता है की जो normal AC है जिसे हम thermostat AC भी कहते हैं वह रूम की तापमान ठंडा होने और जितना पर AC सेट है उस तापमान के मेन्टेन हो जाने के बाद उसका कंप्रेसर बंद हो जाता है और तापमान अगर फिर बढ़ता है तो दोबारह कंप्रेसर चालू हो जाता है , इन्वर्टर AC में ऐसा नहीं है इसका कंप्रेसर कभी बंद नहीं होता रूम का तापमान मेन्टेन होने के बाद वह धीमे चलता है जिससे कम watt consume  होता है यदि हम लमबे समय तक AC चलाते हैं जैसे 8 -12 घंटे उस केस में इन्वर्टर AC ज़्यादा अच्छा है इससे बिजली का बिल थोड़ा कम आता है , बहुत ज़्यादा फर्क नहीं पड़ता है नार्मल और इन्वर्टर AC में हाँ लेकिन इन्वर्टर AC थोड़ा बिजली जरूर बचाता है  ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!