AAC ब्लॉक, Red ब्रिक , CLC ब्लॉक , Fly Ash Brick और solid concrete ब्लॉक ब्रिक में क्या फर्क है ?

Advertisements

दोस्तों आज हम AAC block, Red Bricks, Fly Ash brick Solid concrete block आदि के बारे में जानेंगे साथ ही इनके मध्य क्या अंतर है यह भी जानेंगे, साथ ही हम इनको कैसे बनाते है क्या रॉ मटेरियल उपयोग किया जाता है, ईंट की साइज क्या होता है, साथ ही हम कौन सी ईंट अधिक टिकाऊ होता है किस ईंट का डिमांड वर्तमान समय मे अधिक है आदि के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे, साथ ही यह भी जानेगे की कौन सी ईंट सस्ता होता है वह कौन सी ईंट मंहगा होता है, तो चलिए दोस्तों विस्तार से जानते है।।

Advertisements

ईंट के लिए रॉ मटेरियल

वैसे तो सभी ईंट के लिए अलग अलग तरह के रॉ मटेरियल की आवश्यकता पड़ता है क्योंकि सभी ईंट एक समान होकर विभन्न तरह के है ऐसे में अलग अलग प्रकार के ईंट के लिए रॉ मटेरियल अलग लगता है, तो चलिए रॉ मटेरियल के बारे में जानते है

Advertisements
  1. ACC Block के लिए रॉ मटेरियल :

ACC Block के मिक्सचर बनाने के लिए जिप्सम, सीमेंट के मिक्सचर, रेत, चुना, अरैशन एजेंट आदि की आवश्यकता पड़ता है। कभी कभी फ्लाई ऐश के मिक्सचर भी ACC ब्लॉक बनाने के लिए मिलाया जाता है। 

  1. Red Bricks 

Red Bricks बनाने के लिए मिट्टी (एल्युमिनियम) की मिश्रण, रेत, चुना, आयरन, ऑक्साइड, मैग्नीशियम आदि की आवश्यकता पड़ता है।

3.CLC Block

 CLC block बनाने के लिए सीमेंट, रेत, फ्लाई ऐश, वाटर फोमिंग एजेंट आदि की आवश्यकता पड़ता है।

  1. Fly Ash Bricks 

Fly Ash Bricks बनाने के लिए फ्लाई ऐश के मिक्सचर, सीमेंट, रेत, चुना जिप्सम आदि की आवश्यकता पड़ता है। 

  1. Solid Concrete blocks 

Solid Concrete blocks बनाने के लिए पोर्टलैंड सीमेंट के मिक्सचर, पानी, रेत बजरी की आवश्यकता पड़ता है। 

इस तरह से सभी तरह के ईंट के लिए विभिन्न मात्रा में समाग्री अर्थात रॉ मटेरियल की आवश्यकता पड़ता है।

ईंट की साइज 

  • ACC block CLC ब्लॉक की साइज एक समान होता है, दोनों के साइज में बिलकुल भी अंतर नही होता है, बाजार में इन दोनों का स्टैण्डर्ड साइज उपलब्ध होता है वह है लंबाई 400 mm, 500 mm 600 mm होता है, चौड़ाई 100 mm, 150 mm ,200 mm 250 mm, होता है तथा ऊँचाई 200 mm, 250 mm 300 mm आदि साइज के ईंट मार्केट में उपलब्ध होता है इसका साइज बनाने वाले के अनुसार अलग अलग तरह के स्टैंडर्ड साइज में होता है।

 

  • Red bricks fly ash bricks का साइज एक समान होता है, दोनों की रॉ मटेरियल अलग होता है पर दोनों का स्टैण्डर्ड साइज एक समान होता है जैसेऊँचाई 190×90×90 mm 200×90×40 mm होता है साथ ही इसके नॉन मॉड्यूलर साइज 230×130×70 mm 230×110×30 mm होता है।

 

  • solid concrete blocks का विभिन्न तरह के साइज का ब्लॉक उपलब्ध होता है पर बाजार में इसका स्टैण्डर्ड साइज होता है जिसकी लंबाई 400 mm, 500 mm 600 mm होता है ऊँचाई 200 MM 100 mm होता है तथा इसकी चौड़ाई 50 mm, 75 mm, 100 mm, 150 mm, 200 mm, 250 mm 300 mm होता है।

 

विभिन्न तरह के ईंट के Mortar Consumption क्या होता है

 

  • ACC Blocks, Red Bricks, fly ash bricks, solid concrete blocks आदि में एक समान कम मोटर कंसम्पशन होता है, क्योकि यह सभी ईंटे फ्लैट होता है, साथ ही इनका शेप लगभग एक समान होता है इन सभी मे जॉइंट्स कम होता है, तथा यह बिलकुल ही नियमित सतह में होता है।

 

  • Red bricks में अनियमित सतह के कारण ज्यादा कंसम्पशन होता है क्योंकि red bricks में बहुत ज्यादा जॉइंट होता है बाकी ईंटो के मुकाबले।

 

पानी की जरूरत ईंट मैन्युफैक्चरिंग में

 

  • ACC blocks में पानी की आवश्यकता कम पड़ता है क्योंकि यह पूरी तरह से मशीनरी में होता है, साथ ही इलेक्ट्रिसिटी बिल भी कम भरना होता है, ACC ब्लॉक्स के निर्माण में कम पानी के साथ बिजली बिल भी कम आता है।
  • Red Bricks बनाने में पानी की आवश्यकता अधिक पड़ता है साथ ही इलेक्ट्रिसिटी बिल ज्यादा आता है इसमें लेबर चार्ज भी बहुत ज्यादा लगता है, क्योकि Red bricks बनाने में हैंड वर्क अधिक होता है। इस ईंट से दीवार बनाते वक्त फिक्स करने के लिए पानी की अधिक आवश्यकता पड़ता है।
  • CLC blocks के निर्माण में भाप की आवश्यकता होता है तथा यह पूरी तरह से मशीन द्वारा निर्माण किया जाता है ऐसे में पानी की आवश्यकता कम पड़ता है।
  • Fly Ash bricks का निर्माण भाप के माध्यम से होता है तथा इसके निर्माण में मशीन का उपयोग होता है, निर्माण के लिए पानी की जरूरत कम पड़ता है पर इसे प्लेसिंग करते वक़्त पानी की जरूरत अधिक पड़ता है।
  • Solid concrete blocks के निर्माण में 7 से 14 दिन का समय कास्टिंग के लिए लगता है इसके निर्माण में एक निश्चित अनुपात में पानी की आवश्यकता होता है।

 

Advertisements

ईंटो की ब्रेकिंग यूटिलाइजेशन क्या है

 

  • ACC Blocks, CLC Blocks, Fly Ash Bricks, solid concrete blocks आदि का उपयोग 100 प्रतिशत तक होता है, एवं इसके प्लेसिंग में टूटने का चांस 0 प्रतिशत होता है।
  • Red bricks के टूटने का चांस रहता है, यह 10 – 12 प्रतिशत टूट जाता है, इसका पूर्ण रूप से उपयोग नही किया जा सकता है। Red Bricks का कंस्ट्रक्शन साइट में 100 प्रतिशत तक उपयोग पॉसिबल नही है।

 

विभिन्न ईंटो का ड्राई डेंसिटी 

 

  • ACC blocks की ड्राई डेंसिटी सबसे कम होता है इसकी ड्राई डेंसिटी 451 से 1000  kg/m3 तक होता है यह इसके वेराइटी पर निर्भर करता है।
  • Red Brick की ड्राई डेंसिटी सबसे थोड़ा अधिक होता है इसकी ड्राई डेंसिटी 1600 से 1975  kg/m3 तक होता है यह इसके वेराइटी पर निर्भर करता है।
  • CLC blocks की ड्राई डेंसिटी थोड़ा ज्यादा होता है इसकी ड्राई डेंसिटी 800 से 1800  kg/m3 तक होता है यह इसके वेराइटी पर निर्भर करता है।
  • Fly ash bricks की ड्राई डेंसिटी ज्यादा होता है इसकी ड्राई डेंसिटी 1750 से 1850  kg/m3 तक होता है यह इसके वेराइटी पर निर्भर करता है।
  • Solid Concrete blocks की ड्राई डेंसिटी सबसे अधिक होता है इसकी ड्राई डेंसिटी 1800 से 2500  kg/m3 तक होता है यह इसके वेराइटी पर निर्भर करता है।

 

ईंटो की कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ

 

  • ACC blocks की कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ इसके डेंसिटी के अनुसार कम होता है, इसके कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ का रेंज 2 से 7  N/MM2 होता है।
  • red bricks की कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ इसके डेंसिटी पर निर्भर करता है इसका कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ का रेंज 3.5 से 35 N/mm2 तक होता है।
  • ClC blocks की कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ इसके डेंसिटी पर निर्भर करता है इसका कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ का रेंज 2.5  से 25 N/mm2 तक होता है।
  • Fly Ash Bricks की कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ इसके डेंसिटी पर निर्भर करता है इसका कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ का रेंज 3.5 से 35 N/mm2 तक होता है यह red bricks के बराबर है।
  • Solid Concrete Blocks की कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ इसके डेंसिटी पर निर्भर करता है इसका कॉम्प्रेसिव स्ट्रेंथ का रेंजसे 5 N/mm2 तक होता है।

 

ईंटो का water absorption कितना होता है

 

  • ACC blocks के वाटर अब्सॉर्प्शन इसके वजन के 10 प्रतिशत से अधिक नही होना चाहिए।
  • Red Bricks के वाटर अब्सॉर्प्शन इसके वजन के 20  प्रतिशत से अधिक नही होना चाहिए।
  • CLC blocks के वाटर अब्सॉर्प्शन इसके वजन के 7.5 से 12  प्रतिशत से अधिक नही होना चाहिए।
  • Fly ash bricks के वाटर अब्सॉर्प्शन इसके वजन के 15 से 20 प्रतिशत से अधिक नही होना चाहिए।
  • Solid Concrete Blocks के वाटर अब्सॉर्प्शन इसके वजन के 10 प्रतिशत से अधिक नही होना चाहिए।

 

 ईंटो की Thermal Conductivity 

 

अलग अलग तरह के ईंटो की थर्मल कंडक्टविटी अलग होता है, किसी भी स्पेसिफिक पार्टिकल में हीट ट्रांसफर की घटना थर्मल कंडक्टविटी कहलाता है।

 

  • ACC blocks की थर्मल कंडक्टविटी 0.21 से 0.42 W/ m kelvin होता है जो कि रेड ब्रिक्स के मुकाबले कम है।
  • Red Bricks की थर्मल कंडक्टविटी 0.6 से 1.0 W/ m kelvin होता है, जो कि ACC block से बहुत ज्यादा है।
  • CLC की थर्मल कंडक्टविटी 0.32 से 0.52 W/ m kelvin होता है। जो कि रेड ब्रिक्स की थर्मल कंडक्टविटी से कम होता है।
  • Fly Ash Bricks की थर्मल कंडक्टविटी 0.3 से 0.4 W/ m kelvin होता है, जो कि AAC से ज्यादा है पर रेड ब्रिक्स से कम।
  • Solid Concrete block की थर्मल कंडक्टविटी 0.7 से 1.28 W/ m kelvin होता है, जो कि रेड ब्रिक्स से भी ज्यादा है।

 

ईंटो की Sound insulation 

 

अलग अलग तरह के ईंटो में साउंड इन्सुलेशन अलग होता है जैसे 

  • ACC Blocks की साउंड इन्सुलेशन बहुत अच्छा है क्योंकि इसमें एयर वॉइड्स होता है 200 MM मोटे AAC Blocks में 40 से 45 डेसिबल साउंड रिड्यूस करता है।
  • Red Bricks की साउंड इन्सुलेशन बहुत अच्छा है यह 150 MM मोटे दीवार में 45 डेसिबल साउंड रिड्यूस करता है 230 MM मोटे दीवार में 50 डेसिबल साउंड रिड्यूस करता है।
  • CLC की साउंड इन्सुलेशन बहुत अच्छा है यह मोटे CLC  Blocks में 37 से 42 डेसिबल साउंड रिड्यूस करता है।
  • Fly Ash bricks की साउंड इन्सुलेशन बाकी के तुलना में कम है इसमें साउंड मोडरेट होता है, यह 100 MM मोटे दीवार में 37 से 39 डेसिबल साउंड रिड्यूस करता है।
  • Solid Concrete Blocks की साउंड इन्सुलेशन बहुत अच्छा है क्योंकि इसमें एयर वॉइड्स होता है 150 MM मोटे Blocks में 51 डेसिबल साउंड रिड्यूस करता है, इसलिए यह अच्छा होता है।
Advertisements

Leave a Comment

error: Content is protected !!