जानिए मधुमक्खी पालन उद्योग कैसे शुरू करे – Honey Bee Farming Business in Hindi

मधुमक्खी पालन Honey Bee Farming उद्योग कैसे शुरू करें? दोस्तों हमने कई तरह के उद्योगों के बारें में जाना है। आज हम आपके सामने बिल्कुल अलग तरह के उद्योग के प्लान को लेकर आए हैं। आपने कई बार दवा के रूप में और अच्छी सेहत के लिए शहद को उपयोग में लिया होगा। कई जने दुध में शहद मिलाकर अच्छी सेहत के लिए पीते हैं। कई बार मुंह में छाले हो जाने पर शहद का उपयोग किया जाता है। छोटे बच्चे को जन्म के बाद शहद दिया जाता है। शहद के कई उपयोग हमारे देनिक जीवन में हमें देखने को मिलते हैं। आप मार्केट से शहद खरीदते होंगे लेकिन आपको ताजा और शुद्ध शहद नहीं मिल पाता। कई जने शहद में गुड आदि मिक्स करके बेच देते हैं।

कई बार हमें शहद की जरूरत होती है लेकिन हमें वो प्राप्त नहीं हो पाता। कई जनों के मन में तो ये भी प्रश्न होता है कि ये शहद बनता कैसे होगा? दोस्तों इस उत्पाद की मांग को देखते हुए हम आज आपके लिए इस बिजनेस प्लान को लेकर आए हैं क्योंकि इसकी जरूरत मार्केट में बहुत है लेकिन इसकी पूर्ति नहीं हो पाती। ये क्षेत्र आपके लिए खाली क्षेत्र है जिसमें आपको इतना कंपीटीशन देखने को नहीं मिलता। मधुमक्खियों के पालन से आपको मोम भी प्राप्त होता है, जिसकी मार्केट में बहुत मांग है। जी दोस्तों आप मधुमक्खियों का पालन करके शहद और मोम का अच्छी मात्रा में उत्पादन कर सकते हैं।

मधुमक्खी पालन के लिए क्या-क्या चाहिए ? Honey Bee Farming Requirements

ये बिजनेस शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको खूली जगह की आवश्यकता होती है, जहां पर आप मधुमक्खियों के पालन के लिए पेटियां Madhumakhi Palan Box रख सके। जमीन आपको आपके क्षेत्र में चल रही जमीन की रेट के हिसाब से मिल जाएगी। ये जमीन आपको मधुमक्खियों की पेटियों Box के हिसाब से लेनी पड़ती है। यदि आप 200 से 300 पेटियां मधुमक्खियां पालते हैं तो आपको 4 से 5 हजार स्क्वायर फीट की जमीन लेनी पड़ती है, जो आपको 9 से 10 लाख रुपये तक मिल जाती है।

इसके बाद आपको मधुमक्खियों के रखाव के लिए पेटीयां खरीदनी होती है। इन पेटियों में ही मधुमक्खियां आती है। इस उद्योग के लिए विदेशी मधुमक्खियों को खरीदा जाता है, जो सबसे अच्छी मात्रा में शहद बनाती है, जिनमें एपिस मेलीफेरा, एपिस फ्लोरिया, एपिस डोरसाला और एपिस इंडिका आदि आती है। एपिस मेलीफेरा सबसे ज्यादा शहद बनाने वाली और अंडे देने वाली मधुमक्खी होती है। इस प्रजाती की मधुमक्खी ही खरीदना फायदेमंद होता है। ये एक लघु उद्योग है इसीलिए सरकार द्वारा आपको 2 से 5 लाख तक का लोन इस उद्योग के लिए मिल सकता है।

इसके अलावा इस व्यवसाय के लिए चाकू, रिमूविंग मशीन और शहद एकत्रित करने के लिए ड्रम की आवश्यकता होती है। इसके बाद एक सबसे जरूरी साधन की जरूरत होती है, वो है शहद निकालने के लिए मशीन। ये मशीन आपको 25 से 30 हजार रुपये में मिल जाती है।

मधुमक्खी पालन करना कैसे सीखे Honey Bee Farming Training

दोस्तों हमारे देश में हजारों लाखों युवा बेरोजगार हैं, यदि बेरोजगार युवा मधुमक्खी पालन के व्यवसाय के एक अच्छे स्तर पर करना चाहते हैं, तो आप सरकार द्वारा दिए जा रहे मधुमक्खी पालन के प्रशिक्षण को भी कर सकते हैं। ये प्रशिक्षण करने के बाद आप कई बेहतर तरीके से इस व्यवसाय का संचालन कर सकते हैं। 3 से 5 हजार तक की फीस में आप ये प्रशिक्षण करके एक वैज्ञानिक तरीके से मधुमक्खी पालन कर सकते हैं।

मधुमक्खियां कहां पाली जाए Madhumakhi Palan Kahan Karen

दोस्तों सबसे पहले तो मधुमक्खी पालन के लिए जनवरी से मार्च तक का महीना एवं सबसे बेहतर नवम्बर से फरवरी महीना होता है। कभी भी मधुमक्खी पालन साफ सूथरी जगह पर करना चाहिए। जहां पर फूलों की खेती हो वहां मधुमक्खी पालन का व्यवसाय ज्यादा से ज्यादा चल सकता है क्योंकि मधुमक्खियां जितना फूलों पर जाकर रस लेती है, उतना ही अच्छा शहद हमें प्राप्त होता है। फिर आप पर निर्भर है कि आप उस जगह की सुरक्षा में कितनी सावधानी बरततें हैं।

शहद निकालने की प्रक्रिया

सबसे पहले आप ये देखें कि छत्ते शहद से भरे हुए है या नहीं। छत्तों में शहद जमा होने पर उन्हें सावधानी पूर्वक बाहर निकाले। उसके बाद चाकू से जमे हुए स्थानों को अलग कर दें। अलग किए हुए माल को आप मशीन में सांचों में व्यवस्थित लगा दें। इसके बाद आप मशीन को चालू करेंगे और आप देखेंगे कि मशीन में से शहद अलग होकर आपके सामने निकल आएगा। शहद को व्यवस्थित तरीके से स्टोर कर ले। आप शहद को मांग के हिसाब से स्टोर रख सकते हैं। दोस्तों मशीन के द्वारा शहद निकालने की प्रक्रिया बहुत ही सरल है।

कितना मुनाफा होगा Profit Margin in Madhumakhi Palan

ये पेटी आपको एक पेटी 3500 रुपये के हिसाब से मिल जाती है, जिसमें दस फ्रेम पायी जाती है। एक फ्रेम में 250 से 300 मधुमक्खियां होती है। एक फ्रेम से 200 ग्राम शहद निकल जाता है यानि एक पेटी से आप 2 किलो शहद प्राप्त कर सकते हैं। दस से 15 दिन की अवधि में फिर से मधुक्खियां आपकी फ्रेम को भर देती है, जिसमें आपको शहद बना हुआ मिलता है। तो आप एक महीने में एक पेटी से 4 किलो शहद को प्राप्त कर पायेंगे। 7 लाख में लगभग आपके पेटियां आने के बाद महिने का आप 1200 किलो शहद का उत्पादन कर सकते हैं।

आप शहद को मार्केट में 80 रुपये से 100 रुपये किलो के हिसाब से बेच सकते हैं तो आप एक महिने का 1 लाख 15 हजार तक शहद को बेच सकते हैं। आप मार्केट में मोम भी बेच सकते हैं। यानि आप 7 लाख रुपये के ब्याज की किश्त आदि खर्च को निकाल कर भी महिने के 70 से 80 हजार रुपये कमा ही सकते हैं।

मधुमक्खी पालन से उत्पाद को कहां बेचना होगा

मधुमक्खी पालन से हमें कई सारे उत्पाद प्राप्त होते हैं जिनमें शहद और मोम मुख्य होते हैं। शहद की जरूरत हर शहर और गांव के लोगों को होती है। आप अपने शहर या गांव की आस-पास की दुकानों पर इन उत्पाद को बेच सकते हैं। आप अपने मधुमक्खी पालन व्यवसाय का ज्यादा से ज्यादा प्रचार कर सकते हैं। साथ ही ऐसी कई कम्पनियां है जो अपने उत्पाद को बनाने के लिए मोम या शहद का उपयोग करती है। आप उन कम्पनियों से सम्पर्क करके उन्हें अपना माल बेच सकते हैं।

कई ऐसी कम्पनियां होगी जो आप से माल लेकर अपनी कम्पनी का लेबल लगाकर उन्हें बाजारों में बेचेगी। इससे दो फायदे हैं पहला आपका उत्पाद अच्छी रेट में बिक जाता है और दूसरा किसी बड़ी कम्पनी से आपको मदद मिल जाती है, जो आपके व्यवसाय की गूडविल को मार्केट में अच्छे से बनाकर रखता है। इसके अलावा आप स्वयं भी शहद आदि मोम के प्रोडक्ट बनाकर मार्केट में बेच सकते हैं। हालांकि इसके लिए मेहनत और पैसा ज्यादा लगता है लेकिन कई मेहनती लोग अपने व्यवसाय को अच्छे स्तर तक ले जाकर इस काम को भी कर सकते हैं।

बारिश के मौसम में मधुमक्खियों की ऐसे करें सुरक्षा

दोस्तों जैसा बारिश के मौसम में भी कई प्रकार की बाधाओं का सामना करना पड़ता है। बारिश के मौसम के लिए आपको सबसे पहले ऐसी जगह को चूनना है जहां पर बारिश का पानी एकत्रित न हो क्योंकि ऐसा होने पर मधुमक्खियों की पेटी और मधुमक्खियों को नुकसान पहुंच सकता है। मधुमक्खियों को शक्कर का पानी उबालकर उसमें बी कोम्पलेक्स की केप्सूल आदि दवाओं को मिलाकर देने से उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार आता है। बारिश के मौसम में पेटी से फ्रेम निकालकर साफ करके कभी-कभी धूप में रखें ताकि उनकी अच्छे से सफाई हो सके।

इन बातों की सावधानी रखनी होगी – Important Information in Madhumakhi Palan

इस उद्योग के लिए कई बातों को ध्यान में रखना जरूरी होता है।

  • सबसे पहले तो जो आपको मधुमक्खी की प्रजाती बताई है, वही पालन हेतु खरीदें।
  • मधुमक्खियों को स्वच्छ एवं साफ जगह पर पालना चाहिए क्योंकि कई प्रकार के कीट से मधुमक्खियों को नुकसान होता है।
  • आपने कई बार देखा होगा कि छिपकलियां मधुमक्खियों को खा जाती है, इसीलिए आपको छिपकली रहित क्षेत्र अवेलेबल करना होगा।
  • मधुमक्खियों ने कई बार आपको डंक भी मारा होगा जिससे कि कई बार आपको चिकित्सा लेनी पड़ती है।
  • कई बार तो मधुमक्खियों के डंक से लोगों की मृत्यु हो जाती है। इससे सावधानी बरतनें के लिए आपको शूज, हाथों में सूरक्षा के लिए ग्लप्स और मुंह के बचाव के लिए आदि जरूरी चीजे पहनना न भूलें।
  • शहद निकालने के लिए पूरी सावधानी पूर्वक स्वच्छता का ध्यान रखते हुए ये काम करें। यदि आप चाहें तो कम पेटियां खरीदकर भी छोटे स्तर पर ये व्यवसाय कर सकते हैं।
  • शहद निकालने से पहले इस बात का ध्यान रखें कि मधुमक्खियां छत्ते में है या नहीं और यदि मधुमक्खी के अंडे उसमें ना हो, तभी आप शहद के लिए निकाले।
  • मधुमक्खियों को हटाने के लिए आप ब्रश आदि का प्रयोग कर सकते हैं लेकिन ये काम आपको सावधानी पूर्वक करना होगा।
  • मधुमक्खियों के पालन के लिए आप पेटियां किसी कारीगर से भी बनवा सकते हैं, जो आपको सस्ती पड़ सकती है। तो दोस्तों आज हमने जाना कि कैसे हम मधुमक्खी पालन का व्यवसाय शुरू करके शहद आदि उत्पाद को बेचकर के अच्छी इनकम कर सकते हैं।

29 thoughts on “जानिए मधुमक्खी पालन उद्योग कैसे शुरू करे – Honey Bee Farming Business in Hindi

    • Madhumakhi palan bahut hi labhkari vyawasay hai aap ise awashya karein , get professional training from any government affiliated institution and go ahead , wish you a good luck

  1. Sir, mujhe bhi madhupalan shuru karna hai, uske liye kidhar tranning leni hogi,koi najdiki center ki jankari de. my address ..dist.sangli.maharashtra

  2. Namaste Sir.

    Mein bhi bee farming shuru karna chahata hun. Sir mein student hun aur mujhe coaching class ke fees ke liye aur family ki help kerne ke …mein ishe duty ko karunga sir.

    • Hindily ko sampark karne ka dhanyawad Akash Ji , bahut ache vichar hain aapke aap bahut tarakki karein , aap agar madhu makkhi palan karna chahte hain to pahle iska prashikshan apne nazdiki sarkari sanstha mein awashya poora kar len ..

      Dhanyawad

  3. 🇮🇳Aap ne bahot acche janqari de me Gujrat Vadodara se belong qarta huu aur jankari ke liye kaha Jana hoga plz bataye✌️

  4. Sir Mai Mumbai viraar me rahta hu sir mai bhi bee ka business karna chahta hu plz tell me Mai start kaise karu

  5. उत्तर प्रदेश के लखनऊ शहर में मधुमक्खी की कॉलोनी कैसे और कहां खरीदी जा सकती है? कृपया जानकारी देंने का कष्ट करें।
    धन्यवाद।

  6. Sir मुझे मधुमख्खी पालन के लिए ट्रेनिंग लेना है कहा पर लू
    मेरा पता- ग्राम पुआरिया, पोस्ट गोटिटोरिया, तहसील गाडरवारा, जिला नरसिंगपुर, मध्यप्रदेश

Leave a Comment

error: Content is protected !!