मिनी राइस मिल उद्योग कैसे शुरू करें ? Mini Rice Mill Information in Hindi

मिनी राइस मिल उद्योग कैसे शुरू करें? दोस्तों आजकल हर कोई घर बैठे बिजनेस के प्लान की मांग करता है, वह जानना चाहते हैं कि किस तरह हम घर पर बैठकर कोई बिजनेस कर सकते हैं जिसमें हम कम इन्वेस्टमेंट करके अच्छा से अच्छा पैसा कमा सके। आज के वक्त में देखा जाए तो लघु उद्योगों की मांग हद से ज्यादा बढ़ गई है और बढ़ेगी भी क्यों नहीं आखिर यह उद्योग वृहद उद्योग से भी ज्यादा मुनाफा जो कमा रहा है। कई व्यक्ति और महिलाएं घर बैठे ही काम करना चाहते हैं जिसके लिए वह कम इन्वेस्टमेंट के जरिये अपने कुशल के हिसाब से काम करना चाहते हैं।

आज हम ठीक आपको वैसे ही लघु उद्योग के बारे में बताएंगे जैसे कि हमने आपको पहले बताया था। आज हम जिस उद्योग की बात करने वाले हैं वह धान से जुड़ा है। जी दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं मिनी राइस मिल उद्योग की। इस उद्योग की मांग दिन दिन बढ़ती जा रही है। इस उद्योग को आप घर बैठे भी कर सकते हैं। खेतों में फसलें तैयार होने के बाद उनसे चावल निकालने के लिए मशीन की जरूरत पड़ती है जो किसी किसान के लिए लेना संभव नहीं होता क्योंकि फसले मौसम के हिसाब से लगती है। इसलिए आप इस बिज़नेस को शुरू कर सकते हैं। इस बिज़नेस को महिलाएं भी आसानी से शुरू कर सकती है। आज हम आपको बताने वाले हैं कि आप किस तरह से मिनी राइस मिल उद्योग को शुरू कर सकते हैं।

क्या-क्या चाहिए इस मिनी राइस मिल बिजनेस के लिए?

दोस्तों हम इस उद्योग को दो तरह से कर सकते हैं एक तो छोटे स्तर पर दूसरा बड़े स्तर पर। यदि आप छोटे स्तर पर बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आपको एक छोटी मशीन जो कि चावल निकालने का काम करती है उसे खरीदना होगा जिसे हम मिनी राइस मिल मशीन कहते हैं। आपको हम आगे बताएंगे कि आप यह मशीन कैसे खरीद सकते हैं। उसके बाद यदि आप किस उद्योग को बड़े स्तर पर शुरू करना चाहते हैं तो आपको कुछ जरूरी मशीनरी से खरीदनी पड़ेगी। इसकी चर्चा भी हम आगे करेंगे। उसके बाद आपके पास जगह होनी जरूरी है क्योंकि वृहद स्तर पर बिजनेस शुरू करने के लिए मशीनरी आदि के सेटलमेंट के लिए जगह होना जरूरी है।

उसके बाद आपको कमर्शियल बिजली कनेक्शन लेने की जरूरत पड़ेगी क्योंकि आपको बड़ी-बड़ी मशीनों का संचालन करना होगा और वृहद स्तर पर यह बिजनेस शुरू करने के लिए आपको सरकारी नियम के अनुसार कंपनी का रजिस्ट्रेशन कराना होगा। यह उद्योग शुरू करने के लिए सरकार आपको 90 फ़ीसदी तक लोन देती है। आपको केवल 10 फ़ीसदी रकम की ही व्यवस्था करनी होती है। यह बिजनेस शुरू करने के लिए आपको 3.50 लाख रुपए के इनवेस्टमेंट की जरूरत होती है यानी आपके पास से यदि 35000 है तो आप इस बिज़नेस को आराम से शुरू कर सकते हैं। इसके बाद आपको वृहद स्तर के लिए 8 से 10 और छोटे स्तर के लिए दो से तीन वर्कर्स की आवश्यकता होगी। आप एक अच्छी सैलरी से काम करने वाले वर्कर्स को अपने बिजनेस के लिए रख सकते हैं।

राइस मिल राइस मिल मशीन कहां से खरीदें और कैसे खरीदे ?

यदि आप मिनी राइस मिल मशीनरी खरीदना चाहते हैं तो यह आपको आपके नजदीकी बाजार मैं 50 से 60000 तक आसानी से मिल जाएगी। इस मशीन को आप किसी के यहां चावल निकालने के लिए भी ले जा सकते हैं। इस मशीन की खास बात यह है इसमें आप किसी भी किस्म के चावल को निकाल सकते हैं यह एक चलने वाला मिनी राइस मिल उद्योग है जिसे आप एक स्थान से दूसरे स्थान पर भी चला सकते हैं। यदि आपको वृहद स्तर के लिए मशीनरी खरीदनी है तो आपको कुछ मशीनरी की आवश्यकता होगी जिनका नाम Rice paddy cleaner, paddy operator unit, paddy , rice polisher, grain processing unit और rice aspirator मशीनरी आदि।

यह मशीनरी आपको आपके नजदीकी बाजार में मुश्किल से मिलेगी इसीलिए इसे आप ऑनलाइन मार्केट इंडिया मार्ट से खरीद सकते हैं। इसे खरीदने के लिए आपको सबसे पहले इंटरनेट पर इंडिया मार्ट सर्च करना होगा और उसमें आपको राइस मिल मशीनरी लिख कर सर्च करना होगा आपके सामने कई अलग-अलग प्राइस की मशीनरी आ जाएगी। आप वहां पर लिखे डीलर के नंबर पर संपर्क करके उस मशीनरी को आर्डर कर सकते हैं। यह मशीनरी तीन लाख रुपए तक आ जाएगी। जैसा की हमने बताया था कि आप को 3.5 लाख रुपए की जरूरत पड़ेगी जिसमें से 90 फ़ीसदी आपकी सहायता सरकार कर देगी। आपके लिए यह बहुत फायदे की बात है कि आपकी 90 फ़ीसदी सहायता सरकार कर रही है, जिससे यह बिजनेस आप आंख बंद करके भी कर सकते हैं क्योंकि इतनी सहायता सरकार के द्वारा ज्यादा लघु उद्योगों में नहीं दी जाती।

राइस मिल उद्योग में ध्यान रखने वाली बातें

दोस्तों यदि हम आपके कस्टमर्स की बात करें तो वह आपको ग्रामीण इलाकों में सबसे ज्यादा मिलेंगे। खेतों में धान लगने के बाद जब किसान चावल निकलाने के लिए राइस मिल को ढूंढते हैं तब उनको आपकी राइस मिल के बारे में पता होना चाहिए। इसीलिए आपको ग्रामीण इलाकों में ज्यादा से ज्यादा अपनी राइस मिल का प्रचार करना होगा जिसे आप अपनी मातृभाषा में जितना हो सके उतना करें। आप न्यूज़पेपर मासिक पत्रिकाएं आदि के माध्यम से अपने राइस मिल उद्योग का प्रचार करें।

अपनी कंपनी का एक अच्छा सा नाम रखें ताकि आपके राइस मिल उद्योग के बारे में लोग ज्यादा से ज्यादा जान सके। चावल निकालते समय इस बात का विशेष ध्यान रखें की चावल का ज्यादा नुकसान न हो वरना आपके बिजनेस में अवरोध पैदा हो जाएगा। चावल देते वक्त हमेशा वजन का ध्यान रखें और विश्वसनीयता बरतें। विश्वसनीयता एक सफल बिजनेस का गुण होता है इसे हमें कभी नहीं भूलना चाहिए। मशीनरी की नियमित रूप से बराबर सर्विसिंग करना ना भूलें। राइस मिल उद्योग का संचालन करते हुए आप हमेशा शुद्धता का ध्यान रखें।

मशीनरी का संचालन ध्यानपूर्वक करें। बड़ी-बड़ी मशीनों के संचालन के लिए आपको बिजली कनेक्शन के साथ उसमें लगने वाले तार प्लक्स आदि अच्छी क्वालिटी लगवाने होंगे ताकि आपको शॉर्ट सर्किट से नुकसान ना पहुंचे वरना माल के साथ साथ आपकी मशीनरी को काफ़ी खतरा हो सकता है। किसानों द्वारा दिए गए माल को सुरक्षित स्थानों पर रखें। आप जहां पर भी यह उद्योग कर रहे हो वहां पर चूहे आदि नहीं होने चाहिए वरना वे आपके माल को ज्यादा से ज्यादा हानि पहुंचाने की कोशिश करेंगे। माल लेने और देते समय ग्राहक के सामने वजन की और पैसे की बात करें ताकि बाद में पैसे लेते समय या माल देते समय आपके बीच अवरोध नहीं आएगा।

2 thoughts on “मिनी राइस मिल उद्योग कैसे शुरू करें ? Mini Rice Mill Information in Hindi

  1. KYa. Ye Business ko City me start kar sakte he. .
    Or Rice mill Business me Profit ke kitne Chances he.
    Me ye Business karna chahta hu. .
    Please reply me.

Leave a Comment