प्रिंटिंग प्रेस उद्योग – Printing Press Business Plan in Hindi

प्रिंटिंग प्रेस का उद्योग कैसे शुरू करें? दोस्तों हमने कई तरह के बिजनेस के बारे में जाना है जिनमें हम लघु उद्योगों के बारे में बात कर रहे थे। आज फिर हम आपके लिए लेकर आए हैं ठीक वैसे ही एक लघु उद्योग जिसे आप घर बैठकर ही कर सकते हैं। हमारे भारतीय बाजार में कई तरह के लघु उद्योग हैं जिन्हें हम कम investment से शुरू कर सकते हैं। तो चलिए बात करते हैं प्रिंटिंग प्रेस बिज़नेस की वोभी HINDI में।

आज हम बात करने वाले हैं प्रिंटिंग प्रेस का business कैसे शुरू करें। दोस्तों आपने देखा होगा कि हर घर में शादियां होती है और शादी के कार्ड्स की जरूरत होती है ताकि मेहमानों को इनविटेशन दिया जा सके। इसके लिए Printing Press से कार्ड छपवाए जाते हैं। इसके अलावा आपने देखा होगा कि न्यूज़पेपर के साथ कई उत्पाद या कंपनियों के एडवर्टाइज के लिए पेम्मलेट आते हैं। यही नहीं आपने देखा होगा कि कई दुकानों के विजिटिंग कार्ड बनाए जाते हैं या कई दुकानों के ओपनिंग के या ऑफर्स के बारे में बताने के लिए पेम्मलेट बांटे जाते हैं। आपने देखा होगा कि आपके नजदीकी बाजार में प्रिंटिंग प्रेस की दुकानें जरूर होगी जहां पर यह छपाई का कार्य होता है। आज हम आपको बताएंगे कि आप कैसे घर बैठकर यह काम कर सकते हैं।

क्या-क्या चाहिए इस Printing Press Business के लिए

दोस्तों यह एक लघु उद्योग की श्रेणी में आने वाला उद्योग है इसे आप घर बैठे ही कर सकते हैं और महीने के 30 से 40000 कमा सकते हैं। इस काम के लिए सबसे पहले तो हमें कंप्यूटर आना चाहिए। यदि आपको कंप्यूटर चलाना नहीं आता तो आप इसके लिए ऑपरेटर रख सकते हैं। सबसे पहले हमें जरूरत होती है कंप्यूटर की।

कंप्यूटर में एक सॉफ्टवेयर आता है corel draw नाम से जिसमें प्रिंटिंग प्रेस के लिए वर्क किया जाता है। corel draw के अंदर विजिटिंग कार्ड पेम्पलेट आदि पहले कंप्यूटर के अंदर बनाए जाते हैं प्रिंटिंग का काम बाद का होता है। कंप्यूटर आपको 15 से 20000 तक अच्छे से अच्छा मिल जाएगा। कंप्यूटर के बाद आपको जरूरत होती है प्रिंटर की। यदि आप शादी के कार्ड और विजिटिंग कार्ड आदि प्रिंट करना चाहते हैं तो आपके 15 से 20000 तक अच्छे से अच्छा प्रिंटर आ जाएगा।

यदि आप चाहते हैं कि आप फ्लेक्स को प्रिंटिंग करने का काम भी करना चाहते हैं तो आपको इसके लिए एक बड़ी प्रिंटिंग मशीन की जरूरत होगी। इसके लिए आपको थोड़ा ज्यादा investment करना होगा यह मशीन आपके 5 से 6 लाख तक आएगी। उसके बाद आपको एक कॉमर्शियल बिजली कनेक्शन लेना होगा। प्रिंटिंग के लिए आपको जो प्रिंटिंग के लिए पेपर्स होते हैं उन्हें खरीदना होगा साथ ही फ्लेक्स प्रिंटिंग के लिए भी आपको थोड़ा माल खरीदना होगा। जगह की यदि बात करें तो आप केवल नॉर्मल प्रिंटिंग का काम घर पर ही कर सकते हैं और यदि आप फ्लेक्स प्रिंटिंग का शादी कार्ड प्रिंटिंग का कार्य करना चाहते हैं तो आपको जगह रेंट पर लेनी होगी। जैसा कि मैंने बताया कि कंप्यूटर यदि आपको चलाना नहीं आता है तो आप कोई कंप्यूटर ऑपरेटर रखना होगा जिसको corel draw चलाना आता हो और विजिटिंग कार्ड शादी कार्ड आदि को कंप्यूटर के अंदर बनाना आता हो। उसके बाद आपको दो से तीन जनों की आवश्यकता होगी उन्हें आप उचित सैलेरी देख कर काम के लिए रख सकते हैं।

कंप्यूटर और मशीन आदि कहां से खरीदें

दोस्तों कंप्यूटर का बाज़ार आजकल बहुत विस्तृत हो गया है। कंप्यूटर हम दुकानों से भी ले सकते हैं और कई जने इसको बिना दुकान के भी बेचते हैं। यदि आपकी जान पहचान में कोई अच्छा सा कंप्यूटर विक्रेता हो तो आप उसे एक अच्छा कंप्यूटर खरीद सकते हैं लेकिन उसके अंदर आने वाले फीचर्स के बारे में आपको पूरा नॉलेज होना चाहिए वरना कम प्राइस का कंप्यूटर आप को थमा दिया जाएगा। सबसे पहले आप कंप्यूटर की रैम देखें की रैम कितनी है 2gb से रैम कम नहीं होनी चाहिए ताकि आपका कार्य आसानी से हो सके। उसके बाद आप उसकी मेमोरी को भी जांचे की कितनी मेमोरी उस कंप्यूटर के अंदर अवेलेबल हैं।

यदि आप कंप्यूटर अपने आसपास की दुकान से नहीं लेना चाहते हैं तो आप इसे ऑनलाइन बाजार से भी खरीद सकते हैं। इंटरनेट पर कई सारे ऑनलाइन बाजार उपलब्ध हैं जहां पर आप अच्छी से अच्छी कंपनी का कंप्यूटर खरीद सकते हैं। उसके बाद आपको प्रिंटर लेने की आवश्यकता होगी जो आपको वहीं मिलेगा जहां से आप कंप्यूटर खरीद रहे हैं। उसके बाद हम बात करेंगे फ्लेक्स मशीन की। फ्लेक्स मशीन आपको आपके आसपास मशीनरी बाजार से या फिर आपको ऑनलाइन बाजार पर मिल सकती है। इंडियामार्ट के ऑनलाइन बाजार से आप इस प्रिंटिंग मशीन को खरीद सकते हैं। वहां पर डीलर के नंबर दिए होंगे आप उस पर संपर्क करके इस मशीन को ऑर्डर कर सकते हैं।

कस्टमर्स कैसे बनेंगे और प्रचार कैसे होगा

आपने कई सारे पेंपलेट न्यूज़ पेपर में देखे होंगे तो पहला तो आपका प्रचार का माध्यम यही होगा। इसके लिए आपको एक ऐसे कस्टमर को ढूंढना होगा जो अपने पेंपलेट प्रिंट करा कर न्यूज़ पेपर के माध्यम से प्रचार करने को दें जिसमें आपकी प्रिंटिंग प्रेस का नाम लग सके। उसके बाद आप अपने प्रिंटिंग प्रेस का एड मासिक पत्र पत्रिकाओं में देखकर इसका प्रचार कर सकते हैं। साथ ही आप प्रिंटिंग प्रेस के काम में मासिक पत्रिकाओं के लिए भी काम कर सकते हैं। उसके बाद आप अपने नजदीकी हो रही शादियों के कार्ड्स भी छाप सकते हैं आप अपने रिलेटिव या नजदीकी लोगों से संपर्क करके उन्हें कम रेट में अच्छी क्वालिटी के कार्ड्स छाप कर दे सकते हैं।

आप अपने आसपास की दुकानों के विजिटिंग कार्ड बना सकते हैं इसके लिए आपको आपके नजदीकी दुकानदारों से संपर्क करना होगा। इसके अलावा यदि आप फ्लेक्स प्रिंटिंग का काम कर रहे हैं तो आपके पास कई ऐसे विद्यार्थी भी आएंगे जिनको अपने प्रैक्टिकल वर्क के लिए फ्लेक्स छपवाने होते हैं। ज्यादातर अध्यापक ट्रेनिंग कर रहे विद्यार्थी अधिक मात्रा में फ्लेक्स छपवाने आते हैं। उन्हें अर्जेंट होता है तो वह इसके लिए आपको ज्यादा पैसे भी pay करते हैं। इस तरह से आप प्रिंटिंग प्रेस का काम चालू कर सकते हैं। तो दोस्तों आज हमने जाना कि किस तरह हम प्रिंटिंग प्रेस का business शुरू कर सकते हैं।

4 thoughts on “प्रिंटिंग प्रेस उद्योग – Printing Press Business Plan in Hindi

  1. I like this blogs of how to start printing business. I also want to start printing business. But I have no money for shop so can u guide me for this?

    • Namaskar Shailesh Ji , aap ghar se shuruaat karein , pahle local printing company jo aapke area mein hai usko visit karein unse baat karein halaki koi apni business detail nahi batata par aapko unse baat karke ek general idea mil jayega , work outsourcing ke bare mein bhi baat karein agar unke pass kaam zyada hai to wo aapko outsource karenge kuch kam paise mein jise aap asani se apne ghar se kar sakte hain , dheere dheere karke market mein pakad banaye isme safalta jaroor milegi

      Dhanyawad

Leave a Comment